‘भारतीय करते हैं काम’….

सेक्स के मुद्दे पर लोग खुलकर अपने विचार रखने से बचते हैं. सर्वे 2019 में हमने पुरुषों और महिलाओं से विवाहेतर यौन संबंध यानी अपने पति या पत्नी के अलावा किसी अन्य महिला या पुरुष से शारीरिक संबंध बनाने पर उनकी राय जानने की कोशिश की.

Image result for शारीरिक संबंध

सर्वे से इस बात की जानकारी भी हुई कि सेक्स के मुद्दे पर महिलाएं अब अपनी बेबाक रखने से पीछे नहीं हैं. पहले की अपेक्षा सेक्स को लेकर लोग एक उदार विचार रखते हैं हालांकि महिलाओं के मन से अब भी ये डर रहता है कि लोग क्या कहेंगे.

Image result for शारीरिक संबंध

सुप्रीम कोर्ट  पहले ही व्यभिचार से जुड़े कानून को खारिज कर चुका है. यानी अब भारत में एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर अपराध की श्रेणी में नहीं आता है. दुनिया की पहली एक्स्ट्रामैरिटल डेटिंग वेबसाइट ग्लीडेन की मैनेजर सोलेन पैलेट ने भी इस मामले में अपनी राय दी है.

Image result for शारीरिक संबंध

पैलेट का कहना है कि विवाहेतर यौन संबंधों को अपराध की श्रेणी से हटाए जाने के बावजूद, भारत में अब भी इसे औरत की बेवफाई की तरह ही देखा जाता है, जो बहुत बड़ा सामाजिक कलंक है.

Image result for शारीरिक संबंध

सोलेने पैलेट का कहना है कि एक्स्ट्रा मेरिटल से संबंधित सारे विकल्प गोपनीय होने के बावजूद महिलाएं इससे हिचकती हैं और इसीलिए डेटिंग साइट्स पर पुरुषों की संख्या महिलाओं से बहुत अधिक है.

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *