चाउमीन में सॉस मिलाकर खाने वाले हो जाएं सावधान! हो सकती है मौत

अगर आप भी चाउमीन में सॉस मिलाकर खाते हैं तो ये मामला जरुर जान लें। यह खाने अच्छा जरूर लगता है लेकिन यह भयकंर खतरनाक भी हो सकता है। इसका उदाहरण देखने को मिला जब तीन साल के उस्मान ने जब चाउमीन में सॉस मिलाकर खाया तो हालात इतने बिगड़ गये  की उपचार के दौरान उसका हार्ट तीन बार बंद हो गया था। जिसे देखकर डॉक्टरों के भी हाथ पैर फूल गये थे। लेकिन अब उस्मान खतरे से बाहर है। वहीं डॉक्टर भी उसे किसी चमत्कार से कम नहीं मान रहे। चिकित्सकों के मुताबिक इस तरह का ऐसा पहला केस आया है जो दिल को दहला देने वाला रहा। क्योंकि एक तरफ बच्चे को बचाना, तो दूसरी तरफ उसकी तकलीफ थी।

पीड़ित मासूम के परिजन

डॉक्टरों ने ऑपरेशन कर चेस्ट ट्यूबें डालीं। इलाज के दौरान तीन बार ऐसा मौका आया, जब बच्‍चे के हार्ट ने कम करना बंद कर दिया। बच्चा 16 दिन तक वेंटिलेटर पर रहा। धीरे-धीरे बच्चे की हालत में सुधार हुआ। डॉक्टरों ने बड़ी मुश्किल से बच्चे की जान बचाई।

बच्चे के पिता का हाथ भी जल गया
बच्चे के पिता मंजूर के हाथ पर भी सॉस गिरा था। उनका हाथ भी जल गया। डॉक्टर ने बताया कि इस तरह का यह पहला केस उनके सामने आया है। डॉक्टरों के मुताबिक, एसिटिक ऐसिड के कारण उसके ऑर्गन अंदर से जल चुके थे।

Image result for चाउमीन में सॉस मिला

शरीर पड़ गया था काला
मंजूर ने बताया कि उसके दो बच्चे हैं। छोटा बच्चा उस्मान चाउमीन खाने की जिद कर रहा था। वह पास में ही लगी रेहड़ी पर बच्चे को लेकर चले गए। चाउमीन खाते हुए बच्चे ने रेहड़ी पर रखे सॉस को चाउमीन में डाला। बाद में वह सॉस पीने लगा। उसने बच्चे को ऐसा करने से रोका। कुछ देर के बाद उस्मान की तबीयत बिगड़ गई। शरीर भी काला पड़ने लगा।

आपके बच्‍चे को चाउमीन का शौक है तो ध्‍यान रखें, मुश्किल से बची साढ़े तीन साल के बच्‍चे की जान

हार्ट काम करना कर दिया था बंद
गाबा अस्पताल के हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. बीएस गाबा ने बताया कि जिस तरह से बच्चे की हालत खराब हो चुकी थी। उसे बचाना काफी मुश्किल था। लेकिन हमने भी हिम्मत नहीं हारी और इलाज में जुटे रहे। फेफड़े फट जाने से उसे सांस लेने में भी काफी दिक्कत आ रही थी। ऐसे में उसे कृत्रिम सांस दिया गया। उन्होंने बताया कि एसिटिक एसिड के कारण उसके ऑर्गन अंदर से जल चुके थे।

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *