पहले पत्नी के साथ मनाई सुहागरात और फिर साली को बुलाकर कहा- आओ एक चीज दिखाऊं

अक्सर नाबालिग साली के साथ जीजा छेड़छाड़ किया करता था। इससे नाराज नाबालिग के भाइयों ने अपनी बहन की आंखों के सामने ही जीजा के सिर पर भारी वस्तु से वार कर मौत के घाट उतार दिए और शव को घर के पीछे जंगल में दफना दिए थे।

Image result for जीजा साली बिस्तर

पुलिस ने रविवार को एसडीएम की अनुमति के बाद शव को कब्र से बाहर निकालकर पोस्टमार्टम कराया। इस मामले के आरोपित अभी फरार हैं।

Related image

पसान के दर्रीपारा बस्ती में रहने वाले सुखचैन सिंह की पुत्री फूलमती का विवाह चार साल पहले सेन्हा निवासी अनिल कुमार चौधरी (30) के साथ हुआ था। शादी के बाद से अनिल घर जमाई के रूप में ससुराल में ही रहता था।

Related image

पिछले एक माह से अनिल लापता था। उसका भाई दुर्गेश व अन्य परिजन उसकी तलाश कर रहे थे। इस बीच शनिवार को दुर्गेश पसान थाना पहुंचकर जानकारी दी कि उसके भाई की हत्या कर उसका साला राजकुमार और रवि ने घर के पीछे जंगल में शव को दफना दिया है।

Image result for जीजा साली बिस्तर

इस सूचना के आधार पर पुलिस ने रविवार को एसडीएम से अनुमति के बाद नायब तहसीलदार गुरूदत्त पंचभाई की उपस्थिति में कब्र से शव को बाहर निकलवाया। इस मौके पर टीआइ रामेंद्र सिंह समेत पुलिस की टीम मौजूद रही।

Image result for जीजा साली बिस्तर

चिकित्सक दुष्यंत कश्यप ने मौके पर ही शव को पोस्टमार्टम किया। प्राथमिक तौर पर सिर में लगे चोट की वजह से मौत होने का अनुमान लगाया गया है। वैधानिक प्रक्रिया के बाद शव को कफन दफन के लिए मृतक के परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया। बहरहाल ससुराल पक्ष का पूरा परिवार फरार है। पुलिस इसे हत्या का मामला मानकर जांच पड़ताल कर रही है।

Image result for जीजा साली बिस्तर

दर्रीपारा बस्ती के लोगों का कहना है कि अनिल अक्सर अपनी 15 साल की नाबालिग साली के साथ परिजनों की उपस्थिति में ही छेड़छाड़ किया करता था। इस बात को लेकर उसे कई बार परिजनों ने मना किया, लेकिन वह अपनी आदतों से बाज नहीं आता था।

Image result for जीजा साली बिस्तर

इसे लेकर अक्सर राजकुमार और रवि का विवाद अनिल के साथ हुआ करता था। माना जा रहा है कि इस विवाद को लेकर ही दोनों भाइयों ने अपने जीजा की हत्या कर शव को ठिकाने लगाया।

Image result for जीजा साली बिस्तर

हत्या में भले ही राजकुमार और रवि का हाथ हो पर हत्या के इस मामले को छुपाने में पूरा परिवार लगा रहा। यहां तक अनिल की पत्नी फूलमती यानी आरोपितों की बहन भी अनिल के परिजनों को यह कहकर गुमराह करती रही कि उसका पति काम की तलाश में बाहर गया हुआ है। घटना के वक्त ससुर सुखचैन (50) व नानी सास जमुना बाई भी घर पर मौजूद थी।

Image result for जीजा साली बिस्तर

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *