पुरुष करते हैं ये काम तो हो जाएं सावधान, हो सकता है नपुंसकता का खतरा

इनफर्टिलिटी यानी बांझपन की दिक्कत या फिर गर्भधारण करने में होने वाली समस्याएं महिला या पुरुष, दोनों में से किसी को भी प्रभावित कर सकती है। कई बार यह समस्या नैचरल यानी प्राकृतिक होती है तो वहीं, ज्यादातर मौकों पर हम क्या खाते हैं, हमारी हर दिन की डायट कैसी है, हमारी लाइफस्टाइल कैसी है, डेली रुटीन किस तरह का है, जीन्स में तो किसी तरह की दिक्कत नहीं है- इन सारी चीजों का भी हमारे प्रजनन अंगों पर असर पड़ता है और बांझपन की दिक्कत हो सकती है।

ज्यादा पेनकिलर खाने के हैं साइड इफेक्ट्स


हाल ही में हुई एक नई स्टडी में यह बात सामने आयी है कि पुरुषों की एक आदत उन्हें फर्टिलिटी से संबंधित दिक्कत पहुंचाती है और वह आदत है- ज्यादा पेनकिलर खाने की। जब हम बीमार होते हैं या फिर किसी तरह का दर्द या तकलीफ महसूस करते हैं तो हम में से बहुत से लोग सबसे पहले पेनकिलर यानी दर्द निवारक गोली खा लेते हैं। इस तरह की दवाइयां भले ही आपको मौजूदा समय के लिए दर्द से छुटकारा दिला दें और आपको बेहतर महसूस होने लगे लेकिन लॉन्ग टर्म में इन दवाइयों के साइड इफेक्टस बहुत ज्यादा होते हैं।

पुरुषों में फर्टिलिटी लेवल में कमी


कब्ज से लेकर मांसपेशियों में कमजोरी, स्ट्रोक होने का अधिक खतरा आदि कई लक्षण हैं जो ज्यादा पेनकिलर खाने की वजह से हो सकते हैं और यही वजह है कि एक्सपर्ट्स भी नियमित रूप से पेनकिलर्स न खाने की सलाह देते हैं। इसके अलावा पेनकिलर का एक और हैरान करने वाला साइड इफेक्ट जो सामने आया है वह है पुरुषों में फर्टिलिटी लेवल में कमी यानी नपुंसकता।

 

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *